आकांक्षा का सुसाइड से ठीक पहले का CCTV फुटेज:एक्ट्रेस के साथ कमरे में गया था संदीप; मां ने होटल मैनेजमेंट पर लगाया मिलीभगत का आरोप

भोजपुरी एक्ट्रेस आकांक्षा दुबे की मौत के पहले का CCTV फुटेज सामने आया है। इसमें एक्ट्रेस के साथ संदीप सिंह होटल में जाता दिख रहा है। दोनों रिसेप्शन से होते हुए कमरा नंबर 105 की गैलरी तक आते हैं। फिर कमरे में चले गए। सारनाथ थाने की पुलिस ने आकांक्षा की मां मधु दुबे को यह जानकारी दी है।

फुटेज की टाइमिंग के अनुसार, दोनों करीब 17 मिनट तक एक साथ थे। फिर संदीप होटल से निकलकर अपनी कार में सवार होकर निकल जाता है। संदीप सिंह आकांक्षा और इस केस में आरोपी सिंगर समर सिंह का कॉमन फ्रेंड है।

आकांक्षा की मां बोलीं- कमरे में आया था समर सिंह
इसी बीच शुक्रवार दोपहर एक्ट्रेस की मां मधु दुबे ने परिजन और समर्थकों के साथ सारनाथ थाने पहुंचकर जमकर हंगामा किया। उन्होंने पुलिस पर जांच में लापरवाही बरतने और होटल मैनेजमेंट पर मिलीभगत का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि बेटी को समर सिंह ने मारा है। पुलिस उनकी सुनवाई नहीं कर रही है, बल्कि आरोपियों के प्रति लचर है।

उन्होंने कहा कि जब तक आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होगी। वे चैन से नहीं बैठेंगी। साथ ही पुलिस जांच पर सवाल किया कि घटना के इतने दिन बीतने के बाद भी समर सिंह और उसके भाई की गिरफ्तारी क्यों नहीं हो पा रही है? यही नहीं, घटना वाली रात बेटी के कमरे में पहुंचने वाले संदीप सिंह नामक युवक को क्यों छोड़ा है?

‘होटल मैनेजमेंट ने समर को पहले से ही कमरे में बैठा रखा था’
मधु दुबे ने होटल मैनेजमेंट पर आरोप लगाते हुए कहा कि बेटी ने आत्महत्या नहीं की, बल्कि होटल मैनेजमेंट ने समर सिंह को पहले से ही होटल के कमरे में बैठा रखा था। लाइव वीडियो का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि इसमें बेटी को मारता एक व्यक्ति दिख रहा है। एक्ट्रेस की मां रोते–रोते थाने में गश्त खाकर गिर गईं और बेहोश हो गई। साथ आए लोगों ने उन्हें संभाला और पानी पिलाया।

सारनाथ थाने पर समर्थकों और परिजनों के साथ पहुंची आकांक्षा दुबे की मां मधु दुबे।

जिन 3 को हिरासत में लिया था, उनको पुलिस ने छोड़ा
आकांक्षा दुबे शनिवार रात मंडुआडीह स्थित माली कुंज क्लब में एक पार्टी में शामिल होने गई थीं। देर रात को वह होटल आई थीं। फिर कुछ घंटे बाद उन्होंने फांसी लगा ली। आकांक्षा के साथ मंडुआडीह निवासी अरुण पांडेय व उनकी पत्नी श्रद्धा कार में कुछ दूर आई थीं। बाद में तारापुर चितईपुर निवासी संदीप अपनी कार से आकांक्षा को होटल छोड़ने गया था।

सुसाइड के बाद पुलिस ने इन तीनों को हिरासत में लेकर पूछताछ की थी। बयान भी दर्ज किए थे। हालांकि, मंगलवार रात पुलिस ने तीनों को छोड़ दिया। पुलिस ने जांच होने तक बिना अनुमति वाराणसी के बाहर नहीं जाने की चेतावनी दी है। अब तक की जांच में इन तीनों का कोई इंवॉल्वमेंट नहीं मिला है।

सुसाइड की वजह की पुलिस को तलाश
रविवार यानी 26 मार्च को भोजपुरी एक्ट्रेस आंकाक्षा दुबे (27) ने वाराणसी के सोमेन्द्रा रेजीडेंसी होटल में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। सुसाइड से पहले वह इंस्टाग्राम पर लाइव थीं। इसमें वह फूट-फूटकर रोती नजर आईं। पुलिस का कहना है कि आकांक्षा ने सुसाइड किया है। यह बात पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से लेकर मौके पर मिले साक्ष्य से स्टेबलिस्ट हो रही है। लेकिन, वजह क्या थी? किस दबाव में थी? ऐसा कदम क्यों उठाया? इन सवालों के जवाब नहीं मिले हैं।

आकांक्षा की मां ने सिंगर समर सिंह, उसके भाई संजय समेत चार के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है। इसलिए, इनसे पूछताछ के बाद ही सही वजह सामने आएगी।

समर के विदेश भागने की जताई आशंका
आकांक्षा दुबे आत्महत्या मामले में भोजपुरी सिंगर समर सिंह और उसके भाई संजय सिंह पर प्रताड़ना करने का आरोप लगा है। पुलिस ने दोनों आरोपियों पर मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तारी के लिए दबिश दे रही है। परिजनों ने आरोपियों के विदेश भाग जाने की आशंका जताई है जिस पर परिजनों ने लुक आउट नोटिस की मांग की है। वहीं पुलिस प्रशासन की टीम लुक आउट नोटिस जारी किए जाने की तैयारी में है। वाराणसी कमिश्नरेट की पुलिस टीम और क्राइम ब्रांच की टीम समर सिंह और संजय सिंह को गिरफ्तार करने के लिए आजमगढ़, गाजीपुर, गोरखपुर, पटना और महाराष्ट्र तक आरोपियों के संभावित ठिकाने पर दबिश दे रही है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed