6 हजार में हो चुकी थी डील पर चौकीदार को पता लग गई बाप-बेटे की करतूत, पहुंची पुलिस तो रह गई हैरान!

ByHitech Point agency

May 24, 2024

जमुई. पश्चिम बंगाल के सियालदह से चोरी हुआ सात महीने के बच्ची को जमुई में बरामद किया गया है. जमुई और बंगाल पुलिस ने चोरी के बच्चे को जिले के सोनो थाना इलाके के बाबूडीह से बरामद किया है. चोरी के आरोप में पुलिस ने नंदकिशोर दास नाम के एक शख्स को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया गया है. जानकारी के अनुसार, गिरफ्तार नंदकिशोर दास और उसका बेटा सियालदाह से बच्चे को चुरा अपने रिश्तेदार को बेचने के लिए घर लाए थे. पुलिस के अनुसार बच्चे को बेचने के लिए 6 हजार रुपये तय हुआ था, चोरी कर इस बच्चे को नंदकिशोर दास अपने साले के बेटे को बेचने वाला था. बताया गया है कि बीते दिनों सियालदह में सोए अवस्था मे बच्ची को चुराया गया था, जिसके बाद परिजन स्थानीय थाना में केस दर्ज कराया था. जानकारी के अनुसार गिरफ्तार नंदकिशोर दास और उसका बेटा सुरेश दास दोनों सियालदह में दिहाड़ी मजदूरी का काम करते हैं.

दरअसल, इस मामले का खुलासा तब हुआ जब सोनो थाना इलाके के एक चौकीदार इंद्रदेव पासवान ने इस बात की जानकारी पुलिस पदाधिकारी को दी. चौकीदार को जानकारी मिली थी कि लखनकयारी गांव के सुरेश दास और नंदकिशोर दास, जो दोनों पिता-पुत्र हैं, सियालदह से 7 महीने के एक बच्ची को चोरी कर लाया है. उसे चोरी छिपे बेचने के उद्देश्य से नंदकिशोर दास अपने ससुराल में साला परमेश्वर दास के घर पर रखा है.

चौकीदार की सूचना से करतूत का खुलासा हुआ

चौकीदार की सूचना के बाद पुलिस ने बाबूडीह गांव में छापेमारी की इसके बाद महादेव दास के घर से 7 महीने के बच्ची को बरामद कर लिया गया. बारामदगी के दौरान पुलिस ने नंदकिशोर दास को गिरफ्तार भी कर लिया. पूछताछ के दौरान यह जानकारी मिली है कि उसके साला परमेश्वर दास के बेटे रंजीत का एक लड़का है. लड़की नहीं रहने के कारण 6 हजार में इस बच्ची को बेचने के लिए बातचीत की गई थी..

मामले में झाझा एसडीपीओ राजेश कुमार में बताया कि अनुसंधान के दौरान यह जानकारी मिली कि पश्चिम बंगाल के सियालदह से सात महीने के बाद बच्ची की चोरी की गई थी. इसको लेकर वहां के मुचिपारा थाना में अज्ञात पर केस दर्ज भी कराया गया था. एसडीपीओ ने यह भी बताया कि सियालदह पुलिस के द्वारा विस्तृत जानकारी मिलने के बाद बरामद की गई बच्ची को मेडिकल जांच कराई गई और फिर सियालदह पुलिस एवं परिवार वालों को सौंप दिया गया. इस मामले में फरार बाकी अभियुक्त की भी गिरफ्तारी जल्द की जाएगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *