अरविंद केजरीवाल की AAP पार्षदों से भावुक अपील, कहा- 4 जून को अगर नहीं जीता तो…

ByHitech Point agency

May 16, 2024

नई दिल्ली. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल तिहाड़ जेल से बाहर आते ही एक्शन में आ गए हैं. बीते तीन-चार दिनों से केजरीवाल दिल्ली में लगातार रोड शो तो कर ही रहे हैं पार्टी कार्यकर्ताओं में भी जान फूंक रहे हैं. इसी कड़ी में सोमवार को केजरीवाल दिल्ली नगर निगम के आप पार्षदों के साथ पार्टी दफ्तर में एक मीटिंग की. इस मीटिंग में केजरीवाल ने कहा है कि मेरे ऊपर हनुमान जी आशीर्वाद है. बीजेपी वालों को लगता है कि जेल में डालने से केजरीवाल टूट जाएगा, केजरीवाल ऐसे टूटने वाला नहीं है.

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने आप पार्षदों से तिहाड़ जेल में काटे अपने 50 दिनों का अनुभव सुनाते हुए कहा, ‘मुझ पर नजर रखने के लिए दो-दो सीसीटीवी लगाए हुए थे. मैं कितने बजे सोता हूं, कितने बजे जगता हूं, कितने बजे खाता हूं और कौन सा टीवी चैनल देखता हूं, इसके लिए 13 लोगों को लगाया गया था. यहां तक की मैं बाथरूम जाने पर भी नजर रखी जाती थी.’

आप पार्षदों से मिले अरविंद केजरीवाल
केजरीवाल यहीं नहीं रुके उन्होंने पार्षदों से कहा कि मेरी सीसीटीवी की फूटेज खुद प्रधानमंत्री मोदी मॉनिटर कर रहे थे. फिर भी मैं नहीं टूटा. मेरे ऊपर हनुमान जी का आशीर्वाद है. मुझसे पर्सनल खुंदस निकाला जा रहा है. इनको लगता है कि केजरीवाल टूट जाएगा लेकिन केजरीवाल नहीं टूटेगा. 2 जून को मैं फिर से जेल जा रहा हूं. अगर आप लोग मेहनत करेंगे तो 5 जून को वापस आ जाऊंगा. इसलिए आप सब खूब मेहनत करोगे तो मैं बाहर आ जाऊंगा और अगर मेहनत में कमजोरी रह गई तो फिर देखो कब मिलेंगे’

दिल्ली और पंजाब की राजनीति को करीब से जानने वाले वरिष्ठ पत्रकार संजीव पांडेय कहते हैं, ‘अरविंद केजरीवाल की भाषा नई नहीं है. वह अक्सर ऐसा ही बोलते रहे हैं. जहां तक अरविंद केजरीवाल की रिहाई से दिल्ली और पंजाब में असर पड़ने की बात है तो इसको लेकर अभी कुछ कहा नहीं जा सकता है. हां, दोनों जगहों पर ‘आप’ की सरकार है. इस लिहाज से कुछ तो अंतर जरूर आएगा. केजरीवाल जेल से आते ही जिस तरह से बीजेपी पर हमलावर हैं, उससे माहौल में गर्माहट आ गई है. हालांकि, यह वोटों में कितना तब्दील होगा यह 4 जून को ही पता चलेगा. केजरीवाल के पास जनता से जुड़ने का तरीका मालूम है और वह इसका इस्तेमाल कर रहे हैं. मुझे जानकारी मिली है कि केजरीवाल दिल्ली और हरियाणा में ही नहीं बल्कि बंगाल, बिहार, झारखंड और यूपी के कुछ संसदीय सीटों पर भी कैंपेन करने जा रहे हैं.’

कितना पड़ेगा प्रभाव
अरविंद केजरीवाल 10 मई को तिहाड़ जेल से बाहर आए थे. आज 13 मई होने को है. इन तीन दिनों में अरविंद केजरीवाल बीजेपी पर कई तरह के आरोप लगाए. 13 मई को देश में चौथे चरण का मतदान हो रहा है. खास बात यह है कि आम आदमी पार्टी के लिए महत्वपूर्ण माने जाने वाले दो राज्य दिल्ली और पंजाब में मतदान होना अभी बाकी है. इस नजरिए से देखें तो अरविंद केजरीवाल कम से कम 20 सीटों पर प्रभाव डाल सकते हैं.

दिल्ली की 7 सीटों पर 25 मई मतदान होने हैं. दिल्ली में आम आदमी पार्टी 4 सीटों पर और कांग्रेस 3 सीटों पर चुनाव लड़ रही है. वहीं, पंजाब की सभी 13 सीटों पर 1 जून को मतदान होने हैं. इन दोनों राज्यों के अलावा आप हरियाणा की एक सीट पर चुनाव लड़ रही है. हरियाणा में भी दिल्ली के साथ ही 25 मई को चुनाव होने हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed